समर्थक

नवंबर 02, 2010

नि:शब्द



खामोश हम तुम
बात ज़िन्दगी से
आँखों ने कुछ कहा
धड़कन सुन रही है



धरती से अम्बर तक
नि:शब्द संगीत है
मौसम की शोखियाँ भी
आज चुप-चुप सी है



गीत भी दिल से
होंठ तक न आ पाए
बात दिल की
दिल में ही रह जाए

.
जिस्मो की खुशबू ने
पवन महकाया है
खामोशी को ख़ामोशी ने
चुपके से बुलाया है

.
प्यार की बातों को
अबोला ही रहने दो
नि:शब्द इस गूँज को
शब्दों में न ढलने दो

.
प्यार के भावो को
शब्दों में मत बांधो
चुपके से इस दिल से
संगीत का स्वर बांधो

.
स्वर ही है इस मन के
भावो को है दर्शाती
प्यार जो चुप चुप है
जुबां से निकल आती

12 टिप्‍पणियां:

  1. pyar ke bhano ko sunder awaj di hai aap neis kavita ke madhyam se........

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर,
    दीपावली की ढेर सारी शुभकामना!

    उत्तर देंहटाएं
  3. एक भावपूर्ण प्रस्तुति..दीपावली की हार्दिक शुभ कामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  4. इसी तरह आप से बात करूंगा
    मुलाक़ात आप से जरूर करूंगा

    आप
    मेरे परिवार के सदस्य
    लगते हैं
    अब लगता नहीं कभी
    मिले नहीं है
    आपने भरपूर स्नेह और
    सम्मान दिया
    हृदय को मेरे झकझोर दिया
    दीपावली को यादगार बना दिया
    लेखन वर्ष की पहली दीवाली को
    बिना दीयों के रोशन कर दिया
    बिना पटाखों के दिल में
    धमाका कर दिया
    ऐसी दीपावली सब की हो
    घर परिवार में अमन हो
    निरंतर दुआ यही करूंगा
    अब वर्ष दर वर्ष जरिये कलम
    मुलाक़ात करूंगा
    इसी तरह आप से
    बात करूंगा
    मुलाक़ात आप से
    जरूर करूंगा
    01-11-2010

    उत्तर देंहटाएं
  5. कोमल, मृदुल भावों से परिपूर्ण सुंदर प्रस्तुति. आभार.

    इस ज्योति पर्व का उजास
    जगमगाता रहे आप में जीवन भर
    दीपमालिका की अनगिन पांती
    आलोकित करे पथ आपका पल पल
    मंगलमय कल्याणकारी हो आगामी वर्ष
    सुख समृद्धि शांति उल्लास की
    आशीष वृष्टि करे आप पर, आपके प्रियजनों पर

    सादर
    डोरोथी.

    उत्तर देंहटाएं
  6. चिरागों से चिरागों में रोशनी भर दो,
    हरेक के जीवन में हंसी-ख़ुशी भर दो।
    अबके दीवाली पर हो रौशन जहां सारा
    प्रेम-सद्भाव से सबकी ज़िन्दगी भर दो॥
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!
    सादर,
    मनोज कुमार

    उत्तर देंहटाएं
  7. maun bhi ek vaktavya hai!!!
    bhaavpoorna rachna!
    prakashparv ki shubhkamnayen!!!
    regards,

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुन्दर मनोभावों की प्रस्तुति ..
    दीपपर्व की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  9. दिल मे उतर जाने वाले भाव्……………बेहद उम्दा रचना। गज़ब की बात कह दी।

    उत्तर देंहटाएं
  10. दिल मे उतर जाने वाले भाव्……………बेहद उम्दा रचना।

    उत्तर देंहटाएं
  11. गीत भी दिल से
    होंठ तक न आ पाए
    बात दिल की
    दिल मे ही रह जाए

    सुन्दर भावपूर्ण रचना

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

widgets.amung.us

flagcounter

free counters

FEEDJIT Live Traffic Feed