समर्थक

अगस्त 17, 2011

दिल दीवाना


Love Image 402411
मैं हूँ और मेरे साथ है मेरा दिल दीवाना
ये भी जालिम कभी  कभी बनता बेगाना


साकिओं मैंखानो में बस तू ही तू है
ख़्वाबों की जहां में भी तेरी आरज़ू है


इस कमबख्त दिल को तूने लूट लिया
रिश्ता  तुमने मुझसे आखिर जोड़ लिया


जाने किस घडी में मैं जो बना दीवाना
तुमने भी उस घडी से नाता जोड़ लिया


अब इस जालिम दिल पर मेरा बस नहीं चलता
तेरा मेरा रिश्ता जाहिर हो ही गया





ब्लॉग आर्काइव

widgets.amung.us

flagcounter

free counters

FEEDJIT Live Traffic Feed